in

‘ओपन हाऊस’ के तहत भारतीय ले सकते हैं अंबैसी सेवाओं का लाभ-सरूची शरमा

'ओपन हाऊस' मीटिंग तहत अंबैसी अधिकारियों को मिल के अपनी समस्सयाओं का समाधान करवा सकते हैं

‘ओपन हाऊस’ मीटिंग तहत अंबैसी अधिकारियों को मिल के अपनी समस्सयाओं का समाधान करवा सकते हैं

लवीनीओ (इटली) 29 जून (साबी चीनीआ) – इटली रह कर जीवन व्यतीत कर रहे भारतीय, अंबैसी के द्वारा चलाई गई, ‘ओपन हाऊस’ मीटिंग तहत अंबैसी अधिकारियों को मिल के अपनी समस्सयाओं का समाधान करवा सकते हैं, इन विचारों की अभिव्यक्ति सरची शरमा फसट सैकटरी भारतीय अंबैसी रोम ने यहां के कस्बा लवीनीओ में सिख कमिनऊटी के लीडरों से बातचीत करते हुए किया। उन्होंने सथानक लीडरों से बातचीत करते हुए कहा कि, लोगों की मुश्किलों को ध्यान में रखते हुए योग्य समाधान ढूँढ़ने के लिए रोम अंबैसी में हर बुधवार 3 से शाम 5 बजे तक एक ओपन हाऊस मीटिंग का अभियान शुरू किया है, जिस में बिना किसी पूर्वगामी जानकारी के सीधे रूप से अपनी मुश्किलें लेकर उन से बातचीत कर सकते हैं. इस के लिए किसी तरह का आगामी मनजूरी लेने की भी जरूरत नहीं। इस मौक़े भाईचारे के लीडरों की ओर से इटली का वीजा लेने के समय दिल्ली में इटली अंबैसी की ओर से भारतीयों से किये जा रहे दुर्व्यवहार और वीजा देने में की जा रही देरी वाला मुद्दा भी अधिकारियों के समक्ष रखा गया।
बता दें कि इटली में कोई 20 हजार के क़रीब पंजाबी युवक ऐसे भी है, जिन के पास इटली के पेपर ना होने की सूरत में उन के पासपोर्ट अंबैसी की ओर से रीन्यू नहीं किये जा रहे। जिस के लिए लीडरों की ओर से बार बार अंबैसी अधिकारियों से बातचीत की जा रही है, किन्तु इस का कोई योग्य समाधान नहीं निकल पाया. इस समय इटली की कई प्रमुख सख़शीअत मौजूद थीं.

G20 Summit में महिला सशक्तिकरण पर जोर

तेराचीना: 2 भारतीय नशीले पदार्थों के व्यापार के दोष में गिरफ्तार