in ,

टेक्सास : सिख पुलिस अधिकारी की गोली मारकर हत्या

संदीप सिंह धालीवाल

संदीप सिंह धालीवाल इस एजेंसी के पहले सिख डिप्टी थे. वह टेक्सास में पहले ऐसे पुलिस अधिकारी थे जो सिख धर्म की मान्यताओं (पगड़ी और दाढ़ी) के साथ सेवा दे रहे थे.

अमेरिका के टेक्सास राज्य में भारतीय-अमेरिकी सिख पुलिस अधिकारी की ट्रैफिक सिग्नल पर गोली मार कर हत्या कर दी गई. एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी. ह्यूस्टन क्रॉनिकल ने शेरिफ एड गोंजालेज के हवाले से कहा कि संदीप सिंह धालीवाल ने एक वाहन को रोका, जिसमें एक महिला और एक पुरुष सवार थे. वाहन में से एक व्यक्ति बाहर निकला और उसने 42 वर्षीय संदीप धालीवाल पर उसने कम से कम दो गोलियां चलाई. धालीवाल इस एजेंसी के पहले सिख डिप्टी थे. वह टेक्सास में पहले ऐसे पुलिस अधिकारी थे जो सिख धर्म की मान्यताओं (पगड़ी और दाढ़ी) के साथ सेवा दे रहे थे. सांस्कृतिक विविधता को बढ़ावा देने के लिए धालीवाल को अपने पगड़ी और दाढ़ी के साथ पुलिस में सेवा देने की इजाजत दी गई थी.
अधिकारियों ने बताया कि हमलावार को निकट के एक शॉपिंग सेंटर में जाते देखा गया. धालीवाल के पास जो कैमरा था, उसमें इस पूरे मामले का वीडिया बन गया था और जांचकर्ताओं ने गोलीबारी करने वाले व्यक्ति की पहचान कर ली. भारत के विदेशमंत्री ने इस घटना के बाद ट्वीट कर परिवार वालों का हौसला बांधा.
गोंजालेज ने कहा, ‘उन्होंने तत्काल डैशकैम (एक तरह का कैमरा) में संदिग्ध का हुलिया देखा और उसकी तस्वीर अपने फोन में ले ली.’ अधिकारियों ने बताया कि हमलावार जिस वाहन में सवार था, उसकी तलाश कर ली गई है और जांच जारी है. गोलीबारी करने वाले व्यक्ति और महिला को हिरासत में लिया गया है. धालीवाल विवाहित थे और तीन बच्चों के पिता थे. ये घटना साइप्रस सिटी के नजदीक हुई है. गोंजालेज ने कहा, ‘वो हीरो थे.’ शेरिफ ने ट्वीट किया उन्हें हेलीकॉप्टर एम्बुलेंस की मदद से मेमोरियल हर्मन हॉस्पिटल लेकर जाया गया, जहां उनकी मौत हो गई. अधिकारियों ने एक संदिग्ध को हिरासत में लिया है.

सलमान खान हो सकते हैं शुक्रवार को जोधपुर की अदालत में पेश

धर्म और राष्ट्र के खतरों का एहसास, आम लोगों के दिमाग को गुलाम बनाने का सबसे अच्छा तरीका