in

प्रधानमंत्री मोदी, 57 मंत्रियों के साथ फिर से की दूसरी पारी की शुरुआत


पीएम मोदी समेत 58 लोगों ने ली शपथ


मोदी के दूसरे कैबिनेट में 24 राज्य मंत्री


पीएम मोदी समेत 58 लोगों ने ली शपथ

मोदी के दूसरे कैबिनेट में 24 राज्य मंत्री

नरेन्द्र मोदी को आज भारत के दूसरे प्रधानमंत्री कार्यकाल के तौर पर विदेशी नेताओं, शीर्ष राजनीतिज्ञों और धार्मिक गुरुओं की मौजूदगी में पद की शपथ दिलाई गई। सूर्यास्त से पहले पीले रंग के नेहरू जैकेट पहने मोदी को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पीएम पद की शपथ दिलाई।

उनके फौरन बाद सबसे सीनियर मंत्री राजनाथ सिंह ने शपथ ली और फिर बीजेपी अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने। चुनाव के रणनीतिकार अमित शाह के साथ मिलकर पीएम मोदी की अगुवाई में भारतीय जनता पार्टी ने बेहतर प्रदर्शन करते हुए 543 सदस्यीय लोकसभा में से 303 सीटें जीती थी।

58 सदस्यी केन्द्रीय मंत्रिपरिषद में जिन नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली है उनमें बीजेपी नेता नितिन गडकरी, डीवी सदानंद गौड़ा, पूर्व विदेश सचिव एस. जयशंकर और निर्मला सीतारमण शामिल हैं।बीजेपी अध्यक्ष और पीएम मोदी के दो दशक में सबसे ज्यादा विश्वासपात्र रहे अमित शाह की कैबिनट में बड़ी एंट्री हुई है और ऐसा माना जा रहा है कि उन्हें वित्त मंत्रालय का भार दिया जा सकता है।

इससे पहले, मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में विदेश मंत्री रहे अरुण जेटली ने स्वास्थ्य के आधार पर सरकार में शामिल न करने का आग्रह करते हुए पीएम मोदी के नाम खुला पत्र लिखा था। इससे पहले, पीएम मोदी ने शपथ लेने से ठीक पहले ट्वीट पर लिखा- भारत की सेवा करना सम्मान की बात है।

लोकसभा चुनाव में भारी हार के बाद कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने पर अड़े राहुल गांधी भी प्रधानमंत्री मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचे। वह अपनी मां और यूपीए चेयरपर्सन सोनियां गांधी के पीछे वाली लाईन में बैठे थे। जबकि, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद और सोनिया गांधी अगली लाइन में थीं।

मंत्रिपरिषद में राजनाथ सिंह और अमित शाह के अलावा पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर को शामिल किया गया है। मंत्रिपरिषद में सुषमा स्वराज, सुरेश प्रभु, मेनका गांधी, राधा मोहन सिंह, महेश शर्मा, राज्यवर्द्धन सिंह राठौर, सत्यपाल सिंह, के जे एलफोंस को नयी सरकार में स्थान नहीं मिला है । नयी सरकार में उमा भारती और मनोज सिन्हा भी शामिल नहीं हैं । सुषमा और उमा ने लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा जबकि मनोज सिन्हा चुनाव हार गए । अनंत गीते और हंसराज अहीर चुनाव हार गए और वे भी मंत्रिपरिषद में शामिल नहीं हैं । 

नरेन्द्र मोदी की नयी मंत्रिपरिषद में 24 राज्य मंत्रियों को भी शामिल किया गया है । सरकार में पहली बार शामिल होने वालों में जयशंकर के अलावा प्रह्लाद जोशी, अरविंद सावंत, अर्जुन मुंडा, रमेश पोखरियाल निशंक, रत्न लाल कटारिया, रामेश्वर तेली, कैलाश चौधरी, नित्यानंद राय, प्रताप चंद्र सारंगी, डी मुरलीधर, सोम प्रकाश, रेणुका सिंह, देबाश्री चौधरी, किशन रेड्डी, राव साहब दानवे, संजय धोत्रे आदि शामिल हैं । अनुराग सिंह ठाकुर मोदी सरकार में पहली बार शामिल हुए हैं । 
 

मोदी मंत्री परिषद में कैबिनेट मंत्री के रूप में राजनाथ सिंह, अमित शाह, नितिन गडकरी, डी वी सदानंद गौड़ा, निर्मला सीतारमण, राम विलास पासवान, नरेन्द्र सिंह तोमर, रविशंकर प्रसाद, हरसिमरत कौर बादल, थावर चंद गहलोत, एस जयशंकर, रमेश पोखरियाल निशंक, अर्जुन मुंडा, स्मृति ईरानी और डा. हर्षवर्द्धन, प्रकाश जावडे़कर, पीयूष गोयल ने शपथ ली । 
 

कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ लेने वालों में धर्मेंद्र प्रधान , मुख्तार अब्बास नकवी , प्रहलाद जोशी, डॉ. महेन्द्र नाथ पांडे, गजेन्द्र सिंह शेखावत, गिरिराज सिंह, अरविंद सावंत, प्रहलाद जोशी भी शामिल हैं। संतोष कुमार गंगवार, राव इंद्रजीत सिंह, श्रीपद नायक, डॉ. जितेन्द्र सिंह, किरेन रिजिजू, प्रहलाद पटेल, राजकुमार सिंह, हरदीप सिंह पुरी, मनसुख लाल मंडाविया ने राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) के तौर पर शपथ ली। 2014 में नरेन्द्र मोदी नीत पहली सरकार में 24 कैबिनेट मंत्री शामिल थे । 

मिलान : सबसे बढ़िया इतालवी शहर

पोर्न वेबसाइट्स से सावधान!