in

G20 Summit में महिला सशक्तिकरण पर जोर

महिलाओं को आर्थिक समानता मिल जाए तो 2025 तक दुनिया की अर्थव्यवस्था बढ़ कर 28 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर हो जाएगी

महिलाओं को आर्थिक समानता मिल जाए तो 2025 तक दुनिया की अर्थव्यवस्था बढ़ कर 28 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर हो जाएगी

जी20 शिखर सम्मेलन के दौरान मेजबान देश जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे सहित सभी सदस्य देशों के नेताओं ने वित्तीय एवं अन्य आर्थिक क्षेत्रों में पुरूषों अैर महिलाओं के बीच की असमानता को कम करने और महिला सशक्तिकरण का समर्थन किया।अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी और सलाहकार इवांका ट्रंप ने शनिवार को कहा कि यदि महिलाओं को आर्थिक समानता मिल जाए तो 2025 तक दुनिया की अर्थव्यवस्था बढ़ कर 28 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर हो जाएगी।

वह ओसाका में जी20 सम्मेलन के दौरान इस मुद्दे पर आयोजित विशेष सत्र में बोल रही थी। उन्होंने महिलाओं के दर्जे में सुधार करने को बेतहर आर्थिक और रक्षा नीति बताया। नीदरलैंड की महरानी और समेकित आर्थिक विकास पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव की विशेष दूत मैक्सिमा ने कहा कि महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए इस अंतर को कम करना आवश्यक है।

जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल मंच पर फिर कांपते दिखीं

‘ओपन हाऊस’ के तहत भारतीय ले सकते हैं अंबैसी सेवाओं का लाभ-सरूची शरमा