in

मास्क नहीं पहनने पर हो सकते हैं गिरफ्तार

कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए स्पेन ने अपने यहां सख्त नियम लागू किए हैं. नए कानून के मुताबिक स्पेन में पब्लिक ट्रांसपोर्ट में मास्क नहीं पहनने पर गिरफ्तार किया जा सकता है. ऐसी स्थिति में भारीभरकम जुर्माना भी लगाया जा सकता है. स्पेन ने सोमवार को ऐलान किया है कि लोगों को भीड़भाड़ वाले इलाकों में मास्क पहनना जरूरी है. जहां 2 मीटर के सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन नहीं किया जा सकता, वहां लोगों को मास्क पहनना बेहद जरूरी है.
स्पेन के हेल्थ मिनिस्टर ने कहा है कि नए आदेशों के बारे में विस्तार से जानकारी अगले कुछ दिनों में दी जाएगी. इसी तरह से समंदर किनारे बैठने पर भी रोक लगाई गई है. समंदर के किनारे भीड़ को कम करने के लिए और वहां सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को लागू करवाने के लिए कम संख्या में लोगों के बीच पर जाने की अनुमति है.
स्पेन की सरकार ने मास्क पर फैसला विभिन्न इलाकों के प्रतिनिधियों से मुलाकात के बाद लिया. ये फैसला स्पेन में कोरोना वायरस की वजह से होने वाली मौतों में इजाफा को देखते हुए लिया गया. पिछले 24 घंटों के दौरान स्पेन में 59 लोगों से ज्यादा की मौत हुई है.
स्पेन में पिछले दो दिन से लगातार मौत का आंकड़ा 100 के नीचे रहा है. रविवार को 87 लोगों की जान गई. स्पेन में धीरे-धीरे प्रतिबंधों में छूट दी जा रही है.
द सन की एक रिपोर्ट के मुताबिक स्पेन में ब्रिटेन के लोग मास्क पहनने के आदेश की अवहेलना कर रहे हैं. कई ब्रिटिश नागरिकों को पब और बार में बिना मास्क के देखा गया है. मार्च 13 से अपने घरों में कैद रहने वाले लोग प्रतिबंधों में छूट मिलते ही बाहर निकल पड़े हैं. सोमवार से होटलों को भी दोबारा से खोला गया है. हालांकि ज्यादातर होटल ग्राहकों की कमी की वजह से खुल नहीं पाए हैं.
इस बीच स्पेन के प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ने कहा है कि वो चाहते हैं कि देश में स्टेट ऑफ इमरजेंसी 24 मई के बाद भी लगाया जाए. लेकिन ये आखिरी बार होगा. फिलहाल स्पेन में बाहर से आने वाले लोगों के लिए 14 दिन के क्वारंटाइन रहने का नियम है. इमरजेंसी हटने के बाद इसमें छूट दी जाएगी.

Click to rate this post!
[Total: 0 Average: 0]

परमेसो दी सजोरनो ‘Cura Italia decreto’ से महत्वपूर्ण परिवर्तन?

भारतीय दूतावास रोम ने की भारतीय प्रवासियों को पासपोर्ट प्रदान करने की व्यवस्था